समर्थक

गुरुवार, 29 नवंबर 2012

एक चूक जाती है जिंदगी निगल

India No 1 in road accident deaths

India No 1 in road accident deaths



 

 एक चूक जाती है जिंदगी निगल
ध्यान से तू चल भैया  ध्यान से तू चल !

 हो  सवारी पर या  हो  पैदल
ध्यान से तू चल भैया ध्यान से तू चल !

 

 पीकर शराब कभी वाहन न चलाना ,
तय रफ़्तार से तेज न भगाना ,
सीट बैल्ट बांधकर चलाना तू कार ,
हैलमेट पहन कर हो बाइक पर सवार ,
अब तक ना संभला तो अब तो संभल  !
ध्यान से तू चल भैया ध्यान से तू चल !

 

 पैदल चलने वाले जरा हो जा होशियार ,
लाल बत्ती पर कर सड़क को पार ,
हैड फोन लगाकर सड़क पर ना चलना
रेल की पटरी को खेल ना समझना ,
मोबाइल साइलेंट कर के निकल !
ध्यान से तू चल भैया ध्यान से तू चल !

 

 शिखा कौशिक 'नूतन ''

 

 

 


6 टिप्‍पणियां:

रविकर ने कहा…

चेताती रचना -
बढ़िया -

शालिनी कौशिक ने कहा…

.बहुत सुन्दर भाव अभिव्यक्ति .बधाई सही कह रहे हैं आप .सार्थक प्रस्तुति बधाई -[कौशल] आत्महत्या -परिजनों की हत्या [कानूनी ज्ञान ]मीडिया को सुधरना होगा

Madhuresh ने कहा…

बिलकुल सही सीख ..और youtube पे गा के और भी अच्छा बना दिया है आपने ... फिल्माकर डालने योग्य है ..
सादर
मधुरेश

ajay yadav ने कहा…

जीवन अनमोल हैं ..यातायात नियमों का एवं स्वास्थ्य नियमों का पालन जरुरी हैं |
डॉ अजय [एम्स]

Kailash Sharma ने कहा…

सार्थक सन्देश देती बहुत रोचक रचना..

कविता रावत ने कहा…

...जीवन अनमोल है ..यह सभी समझ ले तो फिर कुछ समझना ही नहीं पड़ता ...बहुत बढ़िया सार्थक सन्देश देती रचना