समर्थक

गुरुवार, 19 जनवरी 2012

जय हो भारत माता की !

जय  भारत माता की 
जय हो भारत माता की !
Azadi 15 august
[गूगल से साभार ]

धरती से लेकर अम्बर तक ;
सूरज से लेकर समंदर तक;
पूरब से लेकर पश्चिम तक ;
उत्तर से लेकर दक्षिण तक ;
जय भारत माता ........


सीमाओं पर डट जाओ;
माँ की आन पे मिट जाओ ;
दुश्मन  से   जा टकराओ ;
मार दो या  मर जाओ ;
ye  kahte  nikle  dam     
जय  भारत  माता   की !


लक्ष्य से  विचलित  ना  हो  मन ;
रखना  सुरक्षित  अपना  वतन  ;
शत्रु  की चाल  को  करके विफल;
दिखला देना बाहुबल;
बस लबो  पे रहे  हरदम   
जय  भारत  माता  की .
                                             जय  हिंद !
                                       शिखा  कौशिक   
                                      [विख्यात ]


10 टिप्‍पणियां:

Kailash Sharma ने कहा…

बहुत ओजपूर्ण प्रस्तुति...जय हिन्द

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

बहुत बढ़िया प्रस्तुति!
--
घूम-घूमकर देखिए, अपना चर्चा मंच
लिंक आपका है यहीं, कोई नहीं प्रपंच।।

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) ने कहा…

बहुत बढ़िया।


सादर

Pallavi ने कहा…

जय हो माइया की ...भारत माता ही जय ...समय मिले कभी तो आयेगा मेरी पोस्ट पर आपका सवागत है http://mhare-anubhav.blogspot.com/ .

अनुपमा त्रिपाठी... ने कहा…

आपकी किसी पोस्ट की चर्चा है नयी पुरानी हलचल पर कल शनिवार 21/1/2012 को। कृपया पधारें और अपने अनमोल विचार ज़रूर दें।

Rakesh Kumar ने कहा…

बहुत सुन्दर ओजपूर्ण और प्रेरक प्रस्तुति है आपकी.
आपकी देश भक्ति से ओतप्रोत प्रस्तुति के लिए हार्दिक आभार.

समय मिलने पर मेरे ब्लॉग पर आईयेगा.
आशा करता हब आपको अच्छा लगेगा.

चैतन्य शर्मा ने कहा…

बहुत प्यारी कविता... जय हिन्द

vidya ने कहा…

जय हो!!!!

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

बढ़िया प्रस्तुति

Reena Maurya ने कहा…

सुंदर रचना