समर्थक

रविवार, 17 फ़रवरी 2013

घाटी अपने खून में देश की भक्ति का रस घोल !

      Kashmir Mountain Photos
मैं भारत हूँ सुन ले घाटी दिल की सारी गांठे खोल 
दहशतगर्दी मिटे मुल्क से संग-संग मेरे तू भी बोल .

दहशतगर्दी जो फैलाये करना उसका काम तमाम ,
नरम नहीं अब सख्त दिलों से लेना होगा हमको काम ,

मेरा बेटा-तेरा भाई सबको एक तराजू तोल !
दहशतगर्दी मिटे ..........................................



मासूमों के हत्यारों को फांसी देनी होगी रोज़ ,
अमन मिटाने वालों की नहीं मनेगी खूनी मौज ,
घाटी अपने खून में तू भी देश की भक्ति का रस घोल !

दहशतगर्दी मिटे ..........................................

अगली पीढ़ी नहीं गोद में गद्दारों के खेलेगी ,
दहशत के अंधड़ को वो भला क्यों झेलेगी ,
उनको हम आतंक मिटाकर अमन का दें तोहफा अनमोल !

दहशतगर्दी मिटे ..........................................

             शिखा कौशिक 'नूतन'